Motor Vehicle Act 2019 in Hindi मोटर वाहन अधिनियम 2019

Motor Vehicle Act 2019 (मोटर व्हीकल एक्ट 2019) : संशोधित मोटर वाहन अधिनियम 2019, 1 सितम्बर 2019 से पूरे देश भर में लागू कर दिया गया हैं। इस नए नियम के बाद अब Traffic Rules तोड़ने वालो को पहले से कई गुना ज्यादा जुर्माना देना पड़ेगा।

नया मोटर वाहन अधिनियम 2019 सभी को जानना बहुत ही जरुरी हैं। इसके अलावा आगे होने वाले प्रतियोगी परीक्षाओं में भी मोटर व्हीकल एक्ट 2019 से प्रश्न पूछे जा सकते हैं।

Motor Vehicle Act 2019पूरे दुनिया भर में हर साल औसतन 13 लाख 50 हजार लोग सड़क दुर्घटनाओं अथवा हादसों में मारे जाते हैं। इन सड़क दुर्घटनाओं में सबसे ज्यादा लोग भारत के मारे जाते हैं।

पिछले साल 2018 में ही सड़क हादसों (Road Accident) में भारत के लगभग 1 लाख 50 हजार लोगो के अपनी जान गवां बैठे।

यही वजह हैं की भारत देश में सड़क सुरक्षा से जुड़े नियमो और कानूनों को और मजबूत करने के लिए केंद्र सरकार काफी गंभीर हैं।

इसी लिए भारत सरकार वाहनों से सम्बंधित नियमो और कानूनों मनें संशोधन किया और संसद में मोटर वाहन संशोधन बिल 2019 पास किया।

केंद्र सरकार द्वारा नया मोटर वाहन संशोधन अधिनियम 2019 दिनांक 09.08.2019 को पारित किया गया।

Motor Vehicle Act 2019

केन्द्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इस Motor Vehicle Act 2019 बिल की जरुरत पर जोर देते हुए संसद में बताया की औसतन हर रोज सड़क हादसों में भारत के 400 लोग मारे जाते हैं।

50 प्रतिशत सडक हादसों में जिन लोगो की मौत होती हैं उनकी उम्र 14 से 35 वर्ष के बीच होती हैं

पिछले साल 2018 में जितने भी सड़क हादसे हुए उनमे से लगभग दो तिहाई 66% हादसे तेज रफ्तार के कारन हुए और 5% हादसे शराब पीकर गाड़ी चलाने से हुए।

इन सड़क हादसों की तादाद को कम करने के लिए ही संशोधित मोटर वाहन अधिनियम 2019 बिल लाया गया हैं

New Motor Vehicle Act 2019

भारत सरकार द्वारा नया New Motor Vehicle Act 2019 दिनांक 09/08/2019 को पारित कर दिया गया हैं जिसके मुख्य प्रावधान निम्नलिखित हैं

  1. सड़क दुर्धटना में पीड़ितों की मृत्यु की स्थिति में मुआवजा 25000 रूपये से बढाकर 2 लाख रूपये कर दिया गया हैं
  2. सड़क दुर्धटना में पीड़ितों की गंभीर चोट की स्थिति में मुआवजा 25000 रूपये से बढाकर 50 हजार रूपये कर दिया गया हैं
  3. गुड समेरिटन (नेक व्यक्ति) : वह व्यक्ति जो सड़क हादसे के समय पीड़ित को आपातकालीन मेडिकल व नॉन मेडिकल मदद करता हैं| यदि सहायता प्रदान करने में हादसे के शिकार व्यक्ति की मृत्यु हो जाती हैं तो मदद करने वाला व्यक्ति अपराधिक कार्यवाही के लिए जिम्मेदार तथा उत्तरदायी नही होगा

अपराध तथा जुर्माने का प्रावधान

  • हेलमेट नही लगाने पर 1000 रूपये जुर्माना व 3 माह के लिए लाईसेंस निलंबित
  • सीट बेल्ट नही लगाने अथवा पहनने पर 1000 रूपये जुर्माना
  • बिना ड्राइविंग लाईसेंस के गाड़ी चलाने पर 5000 रूपये जुर्माना
  • ड्राइविंग लाईसेंस रद्द होने के बाद भी गाड़ी चलाने पर 10000 रूपये जुर्माना
  • बिना इंश्योरेंस के गाड़ी चलाने पर 2000 रूपये जुर्माना
  • शराब पीकर गाड़ी चलाने पर 10000 रूपये जुर्माना
  • गाड़ी चलाते समय मोबाइल से बात करने पर 50000 रूपये जुर्माना
  • दोपहिया वाहन पर दो से ज्यादा सवारी पर 1000 रूपये जुर्माना
  • अधिक तेज (ओवर स्पीड) गाड़ी चलाने 2000 रूपये जुर्माना
  • रेड लाइट जम्प करने पर 5000 रूपये जुर्माना
  • गाड़ी से रेस लगाने पर 5000 रूपये जुर्माना
  • खतरनाक (Wrong Side) ड्राइविंग करने पर 5000 रूपये जुर्माना
  • इमरजेंसी वाहन (एम्बुलेंस) को जाने का रास्ता नही देने पर 10000 रूपये जुर्माना
  • बिना परमिट के पाए जाने पर 10000 रूपये जुर्माना
  • गाड़ियों की ओवेर्लोडिंग पर 2000 रूपये और उसके बाद प्रति टन 2000 रूपये जुर्माना
  • नाबालिक द्वारा वाहन चलाने पर 25000 रूपये जुर्माना और 3 साल की सजा, वाहन का रजिस्ट्रेशन रद्द और गाड़ी के मालिक व नाबालिक के अभिभावक दोषी माने जायेंगे, नाबालिक को 25 साल की उम्र तक लाईसेंस नही दिया जायेगा
अपराधपहले जुर्माना (रूपये में) नया जुर्माना (रूपये में)
हेलमेट नही लगाने पर2001000 व 3 माह के लिए लाईसेंस निलंबित
सीट बेल्ट नही लगाने पर3001000
दोपहिया गाड़ी पर 2 से ज्यादा सवारी1001000
गाड़ी अधिक तेज चलाने पर4002000
इमरजेंसी वाहन (एम्बुलेंस) को जाने का रास्ता नही देने पर010000
ड्राइविंग लाईसेंस के बिना गाड़ी चलाने पर5005000
ड्राइविंग लाईसेंस रद्द होने के बाद भी गाड़ी चलाने पर5005000
खतरनाक (Wrong Side) ड्राइविंग करने पर10005000
शराब पीकर गाड़ी चलाने पर200010000
गाड़ी चलाते समय मोबाइल से बात करने पर10005000
बिना परमिट के पाए जाने पर500010000
गाड़ियों की ओवेर्लोडिंग पर2000 रूपये और उसके बाद प्रति टन 10002000 रूपये और उसके बाद प्रति टन 2000
बिना इंश्योरेंस के गाड़ी चलाने पर10002000
नाबालिक द्वारा वाहन चलाने पर025000 रूपये जुर्माना और 3 साल की सजा, वाहन का रजिस्ट्रेशन रद्द और गाड़ी के मालिक व नाबालिक के अभिभावक दोषी माने जायेंगे, नाबालिक को 25 साल की उम्र तक लाईसेंस नही दिया जायेगा
  • इसे भी पढ़े-
  1. Bihar Police Sub Inspector SI Recruitment Online form
  2. Uttar Pradesh Police की पूरी जानकारी
  3. UP Police Recruitment – UP Police 5673 SI Recruitment
  4. महत्वपूर्ण 206 राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दिवस
  5. भारतीय संविधान के मौलिक अधिकार
You might also like